वॉशिंगटन | अमेरिका के निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन के शपथग्रहण वाले दिन यानी अगले बुधवार की सुबह वॉशिंगटन छोड़ देंगे।

मामले की जानकारी रखने वाले एक व्यक्ति ने नाम उजागर नहीं करने की शर्त पर यह जानकारी दी, क्योंकि इस निर्णय को सार्वजनिक नहीं किया गया है। ट्रंप पहले ही कह चुके हैं कि वह बाइडेन के शपथग्रहण समारोह में शामिल नहीं होंगे। उनके स्थान पर उपराष्ट्रपति माइक पेंस कार्यक्रम में हिस्सा लेंगे। कुछ सहयोगियों के साथ ट्रंप के फ्लोरिडा में रहने की उम्मीद है।

अमेरिका के निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का कार्यकाल समाप्त होने में महज कुछ दिन पहले 14 जनवरी को प्रतिनिधि सभा ने पिछले सप्ताह कैपिटल बिल्डिंग (अमेरिकी संसद भवन) में हुई हिंसा के मद्देनजर उनके खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव पारित कर दिया है। इसके साथ ही ट्रंप अमेरिका के इतिहास में पहले ऐसे राष्ट्रपति बन गए हैं, जिनके खिलाफ दो बार महाभियोग चलाया जा रहा है।

डेमोक्रेटिक पार्टी के नियंत्रण वाली प्रतिनिधि सभा में इस प्रस्ताव को 197 के मुकाबले 232 मतों से पारित किया था। रिपब्लिकन पार्टी के भी 10 सांसदों ने इसके समर्थन में मतदान किया। चार सांसदों ने मतदान नहीं किया। इस महाभियोग प्रस्ताव में निर्वतमान राष्ट्रपति पर अपने कदमों के जरिए छह जनवरी को ''राजद्रोह" के लिए उकसाने का आरोप लगाया गया है।

इसमें कहा गया है कि ट्रंप ने अपने समर्थकों को कैपिटल बिल्डिंग (संसद भवन) की घेराबंदी करने के लिए तब उकसाया, जब वहां इलेक्टोरल कॉलेज के मतों की गिनती चल रही थी और लोगों के धावा बोलने की वजह से यह प्रक्रिया बाधित हुई। इस घटना में एक पुलिस अधिकारी समेत पांच लोगों की मौत हो गई, जबकि पुलिस ने इस सिलसिले में 52 लोगों को गिरफ्तार किया है।