बरेली । बरेली के शाही थाना क्षेत्र में धमकाकर धर्म परिवर्तन कराने और फिर भाइयों के साथ मिलकर दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। पीड़ित युवती ने एसएसपी के आदेश पर शौहर समेत छह लोगों के खिलाफ शाही थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है। एसएसपी को दिए पत्र में युवती ने बताया कि वह अपने घर में ब्यूटी पार्लर चलाती थी। कस्बे की तरन्नुम और उसकी सहेली गजाला का पार्लर पर आना-जाना था।

उनसे उसकी दोस्ती हो गई। एक दिन दोनों बातों में फंसाकर उसे अपने घर ले गईं और कमरे में बंद कर दिया। कमरे में पहले से तरन्नुम का भाई अकलीम उर्फ बाबू कुरैशी मौजूद था। उसने तमंचा दिखाकर धमकाया और दुष्कर्म किया। अकलीम की दो बहनों तरन्नुम और शाहाना ने दुष्कर्म की वीडियो बना ली। फिर वीडियो इंटरनेट पर वायरल करने की धमकी देकर उसका धर्मपरिवर्तन कराकर अकलीम से निकाह का दबाव बनाया जाने लगा।

परिवारवाले उसकी शादी की तैयारी कर रहे थे। अकलीम व उसके परिवार की बातों में आकर वह काफी जेवर लेकर अपने घर से इनके साथ चली गई। उससे नकदी-जेवर लेने के बाद अकलीम ने उसे नशे का इंजेक्शन दिया। बेहोशी की हालत में बरेली ले जाकर निकाहनामे पर दस्तखत करा लिए। उसको इलाहाबाद, बनारस, अकबरपुर, अजमेर तथा बिहार ले जाकर रखा। बिहार से यह लोग आगरा ले आए।

आगरा में अकलीम के भाई शादाल और विसाल आए। इन लोगों ने उससे कई बार सामूहिक दुष्कर्म भी किया। फिलहाल वह आगरा में थी, तेईस नवंबर को मौका देखकर चली आई। भीख मांगकर किराये की रकम जुटाई। आरोप लगाया कि उस पर कई बार प्रतिबंधित पशु का मांस खाने का दबाव बनाया गया। थाना प्रभारी ने बताया कि एसएसपी के आदेश पर अकलीम कुरैशी, शादाब, विसाल, तरन्नुम, सहाना व गजाला के खिलाफ संबंधित धाराओं में मामला पंजीकृत कर लिया है।