दिल्ली । वैश्विक बाजारों में बहुमूल्य धातुओं की कीमतों में तेजी के बीच दिल्ली सर्राफा बाजार में गुरुवार को सोना 323 रुपये बढ़कर 53,039 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया है। HDFC सिक्योरिटीज ने यह जानकारी दी. इससे पिछले कारोबारी सत्र में सोना 52,716 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था. इसके अलावा चांदी की कीमत भी 639 रुपये बढ़कर 62,590 रुपये प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई है।

क्यों बढ़े सोने-चांदी के दाम?
मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेज में जिंस शोध विभाग के वरिष्ठ उपाध्यक्ष नवनीत दमानी ने कहा कि फेडरल रिजर्व की बैठक के ब्यौरे से पता चलता है कि केंद्रीय बैंक का रुख उम्मीद से कहीं कम आक्रामक है। उन्होंने बताया कि इस संकेत के बाद दुनिया की प्रमुख करेंसी के मुकाबले डॉलर में गिरावट आने के बाद सोने और चांदी की कीमतें दिन के निचले स्तर से उबरते हुए लाभ के साथ बंद हुईं हैं।

अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना बढ़कर 1,755.75 डॉलर प्रति औंस और चांदी तेजी के साथ 21.55 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार कर रही थी। HDFC सिक्योरिटीज के शोध विश्लेषक दिलीप परमार ने कहा कि अमेरिकी फेडरल रिजर्व की ताजा बैठक के ब्यौरे में ब्याज दर में बढ़ोतरी की रफ्तार को कम करने का समर्थन किया गया है, जिसके बाद कॉमेक्स में सोने की कीमत में लगातार तीसरे दिन तेजी आई है। उन्होंने आगे कहा कि फेडरल रिजर्व की बैठक का ब्यौरा आने के बाद सोने की कीमत में तेजी लौटी है और यह 1,800 डॉलर प्रति औंस की ओर आगे बढ़ रही है।

फ्यूचर्स ट्रेड में कीमतें
फ्यूचर्स ट्रेड में सोने की कीमतें सोमवार को 199 रुपये बढ़कर 52,650 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गईं हैं. मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज पर, अक्टूबर डिलीवरी के लिए कॉन्ट्रैक्ट्स 199 रुपये या 0.38 फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 52,650 रुपये प्रति 10 ग्राम पर ट्रेड कर रहे थे। यह 4,012 लोट्स के बिजनेस टर्नओवर के लिए है।

आपको बता दें कि सोने को लेकर भारतीयों का आकर्षण दुनिया भर में प्रसिद्ध है। यहां तक की पूरी दुनिया के गोल्ड के कारोबार और भारत के आयात बिल पर भी इस आकर्षण का सीधा असर देखने को मिलता है। ऐसे में जानना जरूरी हो जाता है कि भारत में भी किस क्षेत्र और किस जिले में सोने को लेकर प्यार दूसरे हिस्से से कहीं ज्यादा है।