नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली में अगले हफ्तेभर तक बरसात का मौसम बना रहेगा। इस बीच खासतौर पर छह जुलाई के दिन दिल्ली के अलग-अलग हिस्सों में भारी बरसात हो सकती है। शुक्रवार के दिन भी दिल्ली के अलग-अलग हिस्सों में हल्की बरसात दर्ज की गई। दिल्ली में मानसून के आगमन के साथ ही लोगों को गर्मी से खासी राहत मिली है। दिल्ली के ज्यादातर हिस्सों में शुक्रवार की सुबह से बादल छाए रहे।

बीच-बीच में हल्की बारिश होती रही। इसके चलते दिन के अधिकतम तापमान में खासी गिरावट हुई है। दिल्ली की मानक वेधशाला में अधिकतम तापमान 31.9 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया जो कि सामान्य से पांच डिग्री कम है। जबकि, न्यूनतम तापमान 23 डिग्री सेल्सियस रहा। यह भी सामान्य से पांच डिग्री कम है। यहां पर आर्द्रता का स्तर 98 से 80 फीसदी तक रहा।

मौसम विभाग का अनुमान है कि दिल्ली पर बादल और बारिश की यह मेहरबानी अभी बनी रहेगी। अगले छह दिनों में बीच-बीच में हल्की बरसात होगी। जबकि, छह जुलाई के दिन भारी बरसात हो सकती है। इसके लिए मौसम विभाग की ओर से ऑरेंज अलर्ट भी जारी किया गया है।

संतोषजनक श्रेणी में पहुंची दिल्ली की हवा

दिल्ली में लगातार हो रही बरसात का खासा असर हवा पर भी देखने को मिला है। बारिश के चलते वातावरण में मौजूद प्रदूषक कण धुल गए हैं। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के मुताबिक शुक्रवार के दिन दिल्ली का औसत वायु गुणवत्ता सूचकांक 76 के अंक पर रहा। इस स्तर की हवा को संतोषजनक श्रेणी में रखा जाता है। सफर का अनुमान है कि अगले तीन दिनों के बीच साफ-सुथरी वायु गुणवत्ता का यह स्तर बना रहेगा।

कहां पर कितनी हुई बारिश

सफदरजंग-1.9
लोधी रोड-4.8
रिज-7.6
आयानगर-14.8
दिल्ली विश्वविद्यालय-5.5
पीतमपुरा-23.0
मयूरविहार-11.0