नई दिल्ली । अग्निपथ' योजना को लेकर जारी बवाल के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने सेना में जल्दी भर्ती प्रक्रिया शुरू करने का ऐलान किया है। साथ ही उन्होंने युवाओं से भर्ती के लिए तैयारी करने की भी अपील की है। सरकार और सेना के ऐलान के बाद से ही बिहार, उत्तर प्रदेश, झारखंड समेत कई राज्यों में योजना के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन हो रहे हैं। हालांकि, सरकार ने आयु सीमा में दो साल का इजाफा किया था, लेकिन नीति वापसी की संभावनाओं से इनकार किया था।

प्रदर्शनकारियों की तरफ से पुरानी नीति को लागू करने की मांग की जा रही है।

रक्षा मंत्री सिंह ने कहा कि अग्निवीर स्कीम युवाओं को एक बड़ा मौका देगी। पिछले दो सालों में कोरोना के चलते युवाओं को भर्ती का मौका नहीं मिला था, इसीलिए पीएम मोदी के आदेश पर सरकार ने दो साल की आयु सीमा में छूट दी है। उन्होंने कहा, 'मैं कहना चाहता हूं कि कुछ ही समय में भर्ती प्रक्रिया शुरू होने वाली है। सभी युवाओं से अपील है कि वे इसके लिए तैयारी करें और पूरा लाभ उठाएं।'


सरकार ने बढ़ाई आयु सीमा
केंद्र सरकार ने सेना में नई भर्तियों के लिए आयु सीमा साढ़े 17 सालव से 21 साल के बीच रखी है। रक्षा मंत्रालय की तरफ से गुरुवार को जारी बयान के अनुसार, बीते दो सालों में भर्ती संभव नहीं होने के चलते सरकार ने 2022 में प्रस्तावित भर्ती के लिए एक बार छूट देने का फैसला किया है। इसके साथ ही साल 2022 के लिए अग्निपथ योजना के तहत भर्ती की उम्र 23 साल कर दी गई है।

नहीं थम रही हिंसा
सेना में चार साल की संक्षप्ति अवधि के लिए संविदा पर बहाली की केंद्र सरकार की 'अग्निपथ' योजना के विरोध में हिंसक प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थियों ने आज लगातार तीसरे दिन बिहार के विभन्नि जिलों में रेलवे को प्रमुख रूप से निशाना बनाते हुए तोड़फोड़ तथा आगजनी की। पुलिस सूत्रों ने यहां बताया कि अग्निपथ योजना के खिलाफ सेना में भर्ती के अभ्यर्थी शुक्रवार को सुबह से ही सड़क और रेल पटरियों पर उग्र प्रदर्शन कर रहे हैं । इसके कारण राष्ट्रीय उच्च पथों और कई रेल खंडों पर आवागमन प्रभावित हुआ है।

उत्तर प्रदेश के बलिया में युवाओं की उग्र भीड़ ने जमकर हंगामा किया तथा कई ट्रेन में तोड़फोड़ की। सूत्रों ने बताया कि बलिया रेलवे स्टेशन पर धुलाई के लिए खड़ी एक ट्रेन में युवकों ने आग लगा दी जिससे इसकी एक बोगी धू-घू कर जलने लगी। पुलिस सूत्रों के अनुसार शुक्रवार तड़के अग्निपथ योजना के विरोध में युवाओं की भीड़ जिला मुख्यालय पर स्थित वीर लोरिक स्टेडियम में एकत्रित हुई।