अहमदाबाद । गुजरात के मोरबी के हलवाड़ जीआईडीसी में एक नमक कारखाने की दीवार गिरने से बड़ा हादसा हो गया। इस घटना में कम से कम 12 लोगों की मौत हो गई है। जबकि अभी भी तीन और के दबे होने की आशंका है। रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। मिली जानकारी के अनुसार, बुधवार को गुजरात के मोरबी में स्थित नमक फैक्ट्री की दीवार ढह गई। दीवार गिरने से फैक्ट्री में काम करने वाले श्रमिक इसकी चपेट में आ गए।

बताया जा रहा है कि इस हादसे में कम से कम 12 लोगों की मौत की सूचना है। जबकि कईयों के अभी दबे होने की आशंका है। रेस्क्यू दल मौके पर है और दीवार के नीचे दबे लोगों को रेस्क्यू किया जा रहा है।

राज्य के श्रम एवं रोजगार मंत्री और स्थानीय विधायक बृजेश मेरजा ने कहा कि यह दुखद घटना हलवाड़ औद्योगिक क्षेत्र के अंदर स्थित समुद्री नमक की फैक्ट्री में हुई। उन्होंने कहा, "कम से कम कारखाने के 12 श्रमिकों की मौत हो गई है। मलबे के नीचे फंसे अन्य लोगों को बचाने के प्रयास अभी भी जारी हैं।"

गुजरात के सीएम भूपेंद्र पटेल ने मोरबी में नमक कारखाने की दीवार गिरने की घटना में मारे गए हर श्रमिक के परिजनों को सीएम राहत कोष से 4 लाख रुपये देने की घोषणा की है। सीएम ने मोरबी जिला कलेक्टर और सिस्टम ऑपरेटरों को तत्काल बचाव और राहत कार्यों के निर्देश भी दिए।

मृतक परिवारों को 2-2 लाख- पीएमओ

उधर, मोरबी में हुए दर्दनाक हादसे पर पीएम नरेंद्र मोदी ने दुख जताया है। पीएमओ की तरफ से किए गए ट्वीट में पीएम ने हादसे में जान गंवाने वालों के परिजनों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष (पीएमएनआरएफ) की ओर से दो-दो लाख रुपये देने की घोषणा की है। जबकि, घायलों को 50-50 हजार रुपए दिए जाएंगे।