नोएडा। नोएडा की थाना फेस-2 पुलिस ने हनीट्रैप में फंसाकर लोगों से अवैध वसूली करने वाले एक गिरोह का भंडाफोड़ करते हुए इसके सात सदस्यों को गिरफ्तार किया है, इनमें दो महिलाएं भी शामिल हैं।

डीसीपी (जोन द्वितीय) हरीश चंद्र ने बताया कि 14 जनवरी को मोहम्मद तौसीफ नामक व्यक्ति ने फेस-2 थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई कि उसके भाई नसरत के फोन पर 13 जनवरी को किसी ने फोन कर उसे एफएनजी रोड पर बुलाया। उन्होंने बताया कि पीड़ित ने बताया कि 13 जनवरी की रात को उसके मोबाइल पर फोन आया कि नसरत को गाजियाबाद जिले के मुरादनगर में कुछ लोगों ने बंधक बना रखा है और उसके साथ मारपीट कर रहे हैं, तथा किसी महिला के साथ बलात्कार करने के मामले में वीडियो बनाकर 2 लाख रुपये की मांग कर रहे हैं।

डीसीपी ने बताया कि सूचना के आधार पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी। पुलिस ने मुरादनगर पहुंचकर बंधक नसरत को मुक्त कराया, तथा उसे बंधक बनाने वाले मतीन, वकील, राशिद, इमरान, अशरफ और दो महिलाएं रोशन एवं शबनम को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि इनके पास से पीड़ित की इनोवा कार, मोबाइल फोन, घटना में इस्तेमाल किए गए तीन मोबाइल फोन के अलावा पीड़ित से बदमाशों द्वारा लिया गया 20,000 रुपये बरामद किए गए हैं। उन्होंने बताया कि पूछताछ के दौरान पुलिस को पता चला है कि यह गिरोह लोगों को हनीट्रैप के जाल में फंसाता हैं, तथा उनसे मोटी रकम वसूलता है।

नोएडा में पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान एक लुटेरे को गिरफ्तार किया

ग्रेटर नोएडा के थाना बीटा-दो पुलिस ने शुक्रवार शाम एक मुठभेड़ के दौरान एक शातिर लुटेरे को गिरफ्तार किया है। साथ ही, पुलिस ने 8 जनवरी को एक पेट्रोल पंप कर्मियों से लूटी गई दो लाख रुपये की रकम में से 1,75,000 रुपये भी उसके पास से बरामद किए हैं।

डीसीपी (जोन तृतीय) राजेश कुमार सिंह ने बताया कि मुठभेड़ के दौरान पुलिस द्वारा चलाई गई एक गोली बदमाश के पैर में लगी है। गिरफ्तार किए गए बदमाश की पहचान आरव भाटी उर्फ योगी उर्फ योगेश्वर, शाहपुर थाना सूरजपुर निवासी के रूप में हुई है। उन्होंने बताया कि उसके पास से एक पिस्तौल और लूट में इस्तेमाल की गई एक सैंट्रो कार भी बरामद की गई। उन्होंने बताया कि उसके अन्य साथियों की तलाश जारी है।