चेन्नई । भारत सरकार के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने सोमवार को जी एंटरटेनमेंट इंटरप्राइजेज लिमिटेड को नोटिस भेजा है। नोटिस में 15 जनवरी को एक रियलिटी शो के प्रसारण के लिए स्पष्टीकरण मांगा गया है। इस शो में दो बच्चों ने कथित तौर पर नोटबंदी पर व्यंग्य किया था। इसके साथ ही ये बच्चे कथित तौर पर पीएम मोदी और उनकी पोशाक का मजाक उड़ाते हुए भी दिख रहे थे।

तमिलनाडु में बीजेपी के आईटी और सोशल मीडिया विंग के अध्यक्ष सी टी आर निर्मल कुमार की शिकायत पर कार्रवाई करते हुए मंत्रालय ने मीडिया हाउस से सात दिनों के भीतर जवाब देने को कहा गया है। शो के कॉन्टेंट को हिंदी के साथ अन्य भाषाओं में ट्रांसलेट किया गया था।

तमिल फिल्म की थीम को अपनाया
शो में 14 साल से कम उम्र के दो प्रतिभागियों ने पीएम पर कथित व्यंग्य के लिए तमिल फिल्म 'इम्साई अरासन 23 एम पुलिकेसी' की थीम को अपनाया था। निर्मल कुमार ने अपनी शिकायत में कहा है कि कार्यक्रम के दौरान, बच्चे जानबूझकर पीएम मोदी के बारे में आपत्तिजनक टिप्पणी कर रहे थे। उन्होंने कहा कि शो में नोटबंदी, पीएम की विभिन्न देशों की राजनयिक यात्राओं और पीएम की पोशाक के बारे में तीखी टिप्पणी की गई।

जी ने कॉमेंट करने से किया इनकार
मामले में निर्मल ने कहा, 'ज़ी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज लिमिटेड के चीफ क्लस्टर ऑफिसर सिजू प्रभाकरन ने मुझसे कहा है कि वह कार्यक्रम से संबंधित सभी तरह के कॉन्टेंट को हटा देंगे और जल्द ही स्पष्टीकरण देंगे। दूसरी ओर प्रभाकरन ने कहा कि उनकी कॉर्पोरेट कम्युनिकेशन टीम इस मुद्दे को देख रही है। प्रभाकरन ने आगे किसी भी तरह के कॉमेंट से इनकार कर दिया।