पुणे । महाराष्ट्र के पुणे शहर में मंगलवार को बीच सड़क पर तीन लोगों ने चाकुओं से गोदकर 14 वर्षीय एक किशोरी की निर्मम तरीके से हत्या कर दी। घटना उस समय हुई जब किशोरी कबड्डी के अभ्यास के लिए जा रही थी। मृतक लड़की की पहचान क्षितिज के रूप में हुई है। पुलिस ने अब तक इस मामले में मुख्य आरोपी समेत तीन लोगों को गिरप्तार कर लिया है।

मामले पर पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि प्रथम दृष्टया ऐसा लगता है कि कक्षा आठ में पढ़ने वाली लड़की के दूर के एक रिश्तेदार का एकतरफा प्यार इस बर्बर हत्या का कारण हो सकता है। पुलिस उपायुक्त (जोन-5) नम्रता पाटिल ने कहा, 'लड़की शाम करीब पौने छह बजे कबड्डी के अभ्यास के लिए बिबेवाडी क्षेत्र के यश लॉन्स जा रही थी कि तभी एक मोटरसाइकिल पर सवार होकर 22 वर्षीय एक लड़के सहित तीन लोग पहुंचे और उस पर धारदार हथियार से हमला कर दिया। उन्होंने चाकुओं से कई बार वार किया। हमला इतना बर्बर था कि लड़की की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। हमले के बाद तीनों लोग फरार हो गए।"

उन्होंने आगे कहा कि क्षितिज के दोस्त भी घटनास्थल पर मौजूद थे, जिन्हें आरोपियों ने धमकी दी और जाने के लिए कहा। इसके बाद वह भी घटनास्थल से भाग गया। पुलिस ने घटनास्थल से एक पिस्टल भी बरामद की है और आरोपी को पकड़ने के लिए छापेमारी शुरू की, जिसके बाद आज मुख्य आरोपी समेत तीन लोग पुलिस की गिरफ्त में आ गए।


बताया जा रहा है कि तीन आरोपियों में से दो अभी नाबालिग ही है। मुख्य आरोपी का नाम ऋृषिकेश उर्फ शुभव भागवत है और इसकी उम्र 22 साल बताई जा रही है। उसे बिब्वेवाड़ी इलाके से पकड़ा गया है। पुलिस को इस हत्या में चौथे आदमी की भी तलाश है, जिसके बारे में कहा जा रहा है कि वह भी इस वारदात में शामिल हो सकता है।