मुंबई । अभिनेता और सामाजिक कार्यकर्ता सोनू सूद कोरोना के वक्त लोगों के लिए जिस तरह मदद के लिए आगे आए उसके बाद से वह ‘मसीहा’ कहलाए जाने लगे। बॉलीवुड फिल्मों तक पहुंचने का उनका सफर आसान नहीं रहा है। 30 जुलाई को सोनू सूद अपना 48वां जन्मदिन सेलिब्रेट कर रहे हैं। इस मौके पर बताते हैं उनकी जिंदगी से जुड़ी कुछ खास बातें।


जाते रहते हैं पंजाब
सोनू सूद का जन्म पंजाब के मोगा जिले में हुआ है। उनकी शुरुआती पढ़ाई भी यहीं से हुई। आज भी वक्त मिलने पर सोनू अक्सर मोगा जाते रहते हैं।

 

सोनू सूद ने नागपुर के यशवंत राव चव्हाण कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग से पढ़ाई की। वह इंजीनियर बन भी गए थे। उन्होंने फैमिली बिजनेस करने के बारे में सोचा लेकिन किस्मत को शायद कुछ और ही मंजूर था।

पैरेंट्स ने किया सपोर्ट
सोनू सूद के दिल में मुंबई जाने का एक सपना था। पहले तो उन्हें लगा कि उनके पैरेंट्स उन्हें रोकेंगे लेकिन उन्होंने हमेशा उनका साथ दिया। सोनू सूद की मां ने कहा कि जाओ और अपने सपने पूरे करो।

 

जब सोनू सूद मुंबई पहुंचे तो उनके पास केवल साढ़े पांच हजार रुपये थे। एक दिन वह फिल्म सिटी पहुंचे उन्हें लगा कि शायद कोई निर्माता-निर्देशक उन्हें देख ले और अपनी फिल्मों में ले ले। हालांकि ऐसा कभी नहीं हुआ।

संघर्ष भरे थे शुरुआती दिन
स्ट्रगल के दिनों में वह लोकल ट्रेन से सफर करते थे। उन्होंने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर उस वक्त लिए गए टिकट की तस्वीर भी पोस्ट की थी। मुंबई में वह एक कमरे में तीन-चार लोगों के साथ रहते थे और जैसे-तैसे गुजारा हो रहा था।

सोनू को दक्षिण भारतीय फिल्म इंडस्ट्री में पहला ब्रेक मिला। 1999 में उनकी पहली फिल्म तेलुगू में कल्लाजगार थी। बॉलीवुड में उन्हें साल 2001 में शहीद-ए-आजम में मौका मिला। इसमें उन्होंने भगत सिंह का किरदार निभाया था।


दिन-रात जुटकर की मदद
सोनू सूद ज्यादातर फिल्मों में विलेन बने नजर आए हालांकि कोरोना काल ने उनकी इमेज पूरी तरह बदल दी और वह असल जिंदगी के हीरो कहलाने लगे। उन्होंने प्रवासी मजदूरों, छात्रों और अन्य लोगों को उनके घर तक पहुंचाया। यही नहीं उनके लिए नौकरी तक की व्यवस्था की। किसी के लिए वह ऑक्सीजन का इंतजाम करते देखे गए तो किसी के लिए दवाइयों का प्रबंध किया।

निजी जिंदगी
सोनू सूद ने अपनी गर्लफ्रेंड सोनाली से शादी की है। दोनों की मुलाकात नागपुर में हुई थी। साल 1996 में दोनों शादी के बंधन में बंधे। उनके दो बच्चे हैं।