नई दिल्ली । दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच को अहम सफलता हाथ लगी है। क्राइम ब्रांच की टीम ने चर्चित जहांगीरपुरी दंगा मामले में एक वांछित क्रिमिनल को गिरफ्तार किया है। आरोप है कि हनुमान जंयती के दिन इस शख्स ने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर दूसरे पक्ष और पुलिस पर पत्थर और कांच के बोतल फेंके थे। इन दंगों के बाद यह आरोपी पुलिस की गिरफ्तारी से बचने के लिए फरार हो गया था।


कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से बताया गया है कि आरोपी का नाम सांवर उर्फ अकबर उर्फ कालिया है। सांवर जहांगीरपुरी में ही कबाड़ी बेचने वाले के तौर पर काम करता था। यह भी बताया जा रहा है कि वो पहले चोरी की वारदातों में भी शामिल रहा है। सांवर जहांगीरपुरी का ही निवासी भी है। इतना ही नहीं यह भी कहा जा रहा है कि पुलिस ने उसपर इनाम भी घोषित किया था।

सांवर को लेकर पुलिस को जानकारी मिली थी कि वो जहांगीरपुरी के सी ब्लॉक में मौजूद है। यहां जब पुलिस पहुंची तब वो झुग्गियों की तरफ भाग निकला। इसके बाद जब पुलिस ने उसका पीछा किया तो कुछ अज्ञात लोगों ने आरोपी की मदद की नीयत से पुलिसकर्मियों पर ईंटें फेंकी। हालांकि, कुछ देर की जद्दोजहद के बाद पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।