नई दिल्ली । संसद भवन के आसपास की सुरक्षा सख्त कर दी गई है। संदिग्धों पर नजर रखने के लिए सादी वर्दी में भी पुलिस की तैनाती की गई है। दरअसल, इंटेलिजेंस एजेंसी ने हाल ही में अलर्ट जारी कर कहा है कि प्रतिबंधित आतंकी संगठन सिख फॉर जस्टिस (एसएफजे) संसद भवन का घेराव करने की कोशिश कर सकता है और झंडा फहराने की भी हिमाकत कर सकता है। इसे देखते हुए सुरक्षा और चौकस कर दी गई है।

खुफिया अलर्ट के अनुसार, सिख फॉर जस्टिस (एसएफजे) के आतंकी गुरपतवंत सिंह पन्नू ने यूट्यूब चैनल पर एक वीडियो जारी किया है। इस वीडियो में लंबे समय से कृषि कानूनों के विरोध में प्रदर्शन कर रहे किसानों से अपील की गई है कि वे संसद का घेराव करें और वहां झंडा फहराएं।

सवा लाख अमेरिकी डॉलर के इनाम की घोषणा
खुफिया अलर्ट के अनुसार, पन्नू ने वीडियो में कहा है कि संसद भवन पर झंडा फहराने वाले को सवा लाख अमेरिकी डॉलर का इनाम दिया जाएगा। खुफिया विभाग ने इस वीडियो की जानकारी देते हुए दिल्ली पुलिस समेत तमाम एजेंसियों को अलर्ट पर रहने को कहा है। साथ ही संसद भवन के आस-पास सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम करने की बात कही गई है।

पहले भी की थी भड़काने की कोशिश
इस प्रतिबंधित खालिस्तानी ग्रुप ने साल के शुरुआत में भी प्रदर्शनकारी किसानों को भड़काने के मंसूबे के तहत एक ऐलान किया था। इसमें कहा गया था कि जो कोई भी गणतंत्र दिवस पर लाल किले पर खालिस्तानी झंडा फहराएगा, उसे ढाई लाख अमेरिकी डॉलर इनाम में दिए जाएंगे। एसएफजे के घोषित आतंकवादी गुरपतवंत सिंह पन्नू ने वीडियो में जहर उगलते हुए इस इनाम का ऐलान किया था।