नई दिल्ली। पूर्व मालकिन की हत्या के आरोप में 26 वर्षीय घरेलू सहायिका और उसके पति को गिरफ्तार किया गया है। आरोप है कि पूर्व मालकिन ने कथित तौर पर महिला को देह व्यापार में धकेलने की कोशिश की थी। पुलिस ने बताया कि आरोपियों की पहचान अक्षय यादव और उसकी पत्नी के रूप में हुई है, जो हरियाणा में फरीदाबाद के रहने वाले हैं।


उन्होंने बताया कि गुरुवार को गोविंदपुरी थाने को शीला यादव (41) के अपने घर में बिस्तर पर खून से लथपथ मृत पड़े होने की सूचना मिली थी। पुलिस ने कहा कि शिकायतकर्ता मुकेश यादव ने बताया कि बुधवार की रात करीब 10 बजकर 25 मिनट पर उसने अपनी मामी को फोन कर खाना खाने के लिए बुलाया, लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया। यादव ने बताया कि उसने अगले दिन सुबह फिर से मामी को फोन किया तो उनका फोन बंद आने लगा।

एक वरिष्ठ पुलिस ने बताया कि मुकेश अपने मामा के साथ जब उनके कमरे में पहुंचा तो शीला की खून से लथपथ लाश पड़ी थी और बिस्तर व फर्श पर खून फैला हुआ था।

पुलिस उपायुक्त (दक्षिण-पूर्व) ईशा पांडेय ने कहा कि जांच के दौरान अक्षय और उसकी पत्नी को उनके फरीदाबाद स्थित घर से गिरफ्तार किया गया। उन्होंने बताया कि जांच में सामने आया कि अक्षय ऑटो चलाता है और उसकी पत्नी शीला के घर पर घरेलू सहायिका के तौर पर काम करती थी। अधिकारी ने कहा कि शीला कथित तौर पर घरेलू सहायिका पर देह व्यापार करने के लिए दबाव डाल रही थी। उन्होंने कहा कि इससे गुस्साए अक्षय और उसकी पत्नी ने शीला की हत्या कर दी।