नई दिल्ली। राजधानी दिल्ली स्थित रोहिणी सेक्टर-34 स्थित एक घर से गुरुवार दोपहर को युवक-युवती के शव सड़ी गली हालत में मिले। शाहबाद डेरी पुलिस ने कमरे का दरवाजा तोड़कर शवों को कब्जे में ले लिया है। फिलहाल पुलिस आत्महत्या को कारण मानकर चल रही है। जानकारी के अनुसार, पटना निवासी लिजा और दरभंगा निवासी नवीन पांच दिन पहले ही किराये के इस मकान में रहने के लिए आए थे।

लिजा संगीत की टीचर थी। बताया जाता है कि आने के बाद से ये दोनों बाहर दिखाई नहीं दिए। जब पड़ोसियों को गुरुवार को घर से दुर्गंध आनी शुरू हुई तो उन्होंने पुलिस को इसकी सूचना दी। फिर पुलिस ने दरवाजा तोड़कर अंदर प्रवेश किया।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि नवीन के हाथ में बिजली का नंगा तार लिपटा हुआ था जो पंखे से लगा था। ऐसा माना जा रहा है कि उसने करंट लगाकर आत्महत्या कर ली, लेकिन बेहद सड़ी हालत में पाई गई लिजा की मौत के कारणों के बारे में अभी कुछ नहीं बताया जा सकता।


पुलिस अधिकारी ने बताया कि नवीन का मानसिक स्वास्थ्य पहले ही ठीक नहीं था, जिसका इलाज भी हुआ था। फिलहाल पुलिस ने शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए कब्जे में लेकर परिजनों को घटना के विषय में सूचित कर दिया है। पुलिस को मौके से कोई सुसाइड नोट भी नहीं मिला है।