नई दिल्ली । निर्माण कार्य के लिए एनएच-48 यानी दिल्ली-जयपुर हाईवे को 90 दिनों के लिए बंद करने के लिए ट्रायल मंगलवार से शुरू कर दिया गया। सुबह 9.15 बजे दिल्ली से गुरुग्राम जाने वाल कैरिज वे को बंद कर दिया गया। इसी तरह शाम 4.30 बजे के करीब गुरुग्राम से दिल्ली हाईवे के कैरिज वे को बंद कर दिया गया था। इससे करीब 8 किमी जाम लग गया।

 

जाम रजोकरी से पीछे जीजीआर फ्लाईओवर व वसंत विहार तक था। लोग दो से तीन घंट जाम में फंसे रहे। लोग सुबह से ही सोशल मीडिया व ट्रैफिक पुलिस की हेल्पलाइन पर गुस्सा उतारते रहे। वाहन धीरे-धीरे रेंगते रहे। जाम को देखने से लग रहा था कि लोगों ने दिल्ली ट्रैफिक पुलिस की सलाह पर ध्यान नहीं दिया।


हालांकि, दिल्ली ट्रैफिक पुलिस अधिकारियों का मानना है कि ट्रायल से लोगों को ज्यादा परेशानी नहीं हुई। पहले जहां आम दिनों में ट्रैफिक 13 से 15 मिनट डिले होता था, वहीं हाईवे बंद करने से ट्रैफिक के लिए 25 से 30 मिनट की देरी हुई। ऐसे में एनएच-48 को निर्माण कार्य के लिए अब बंद कर दिया गया है।
ट्रायल के दौरान पता लगा है कि लोगों को हाइवे को बंद करने से ज्यादा परेशानी नहीं हुई। वाहन चलते रहे। पहले जहां स्पीड 60 से 70 किमी प्रतिघंटा थी वहीं अब स्पीड 15 से 20 किमी प्रतिघंटा हो गई है। ऐसे में अब हाइवे को निर्माण कार्य के लिए बंद दिया गया है। ट्रायल के लिए बंद किया गया हाईवे को अब खोला नहीं जाएगा।

रंगपुरी से रजोकरी तक मार्ग 90 दिनों के लिए रहेगा बंद
दिल्ली ट्रैफिक पुलिस अधिकारियों के अनुसार एनएचएआई भारत माला प्रोजेक्ट के तहत द्वारका एक्सप्रेस बना रही है। निर्माण द्वारका लिंक रोड पर एनएच-48पर शिवमूर्ति के पास होगा। इस प्रोजेक्ट के तहत दो अंडरपास व एलिवेटेड सेक्शन बनाए जाएंगे। इस निर्माण कार्य के चलते दिल्ली-जयपुर हाइवे रंगपुरी से रजोकरी तक 90 दिनों के लिए बंद किया जाएगा। हाईवे को बंद करने से ट्रैफिक पर क्या असर पड़ेगा, क्या ट्रैफिक नई दिल्ली तक नहीं पहुंच जाएगा, ये देखने के लिए दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने सोमवार को हाईवे को बंद करके देखा।

ट्रैफिक पुलिस ने गूगल से लिया ट्रायल का जायजा-

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि ट्रायल को सफलता का पता लगाने के लिए गूगल का सहारा लिया गया। गूगल से पता लगा कि पहले आम दिनों में एनएच-48 पर जाम 13 से 15 रहता था। ट्रायल के दौरान हाइवे पर जाम 25 से 30 मिनट तक रहा।

पुलिस की सलाह,वैकल्पिक मार्गों का करें इस्तेमाल

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस की नई दिल्ली रेंज के उपायुक्त आलाप पटेल का कहना है कि ट्रैफिक पुलिस के ट्वीट देखे। पुलिस की एडवाइजरी पर ध्यान दे। उनका कहना है कि अगर लोगों को 45 मिनट जाम में नहीं फंसना है तो वैकल्पिक मार्गों का इस्तेमाल करें। ट्रैफिक पुलिस ने राष्ट्र निर्माण में लोगों से सहयोग करने की अपील की है।
वैकल्पिक मार्ग-
- हाईर्व के दोनों कैरिज वे पर स्लिप रोड़ बना दिए गए हैं।
- वाहन चालक जयपुर व गुरुग्राम से दिल्ली आने व जाने के लिए महरौली-गुरुग्राम रोड का इस्तेमाल करें।
- द्वारका, कपासहेडा व नजफगढ़ जाने वाले लोग गुरुग्राम रोड फ्लाईओवर से पालम रोड होकर जा सकते हैं।
- गुरुग्राम, कपासहेड़ा व द्वारका से आकर धौलाकुआं व वसंत विहार जाने वाले लोग द्वारका फ्लाईओवर रोड नंबर-201 होकर जा सकते हैं।

मुड़ाव व कैरिज वे के 14 मीटर का रहने से लग रहा है जाम
एनएच-48 पर ट्रैफिक को निकालने के लिए हाईवे के बगल में स्लिप रोड बना दिए गए हैं। दोनों कैरिज वे पर 4-4 लाइन का स्लिप रोड है। बावजूद जाम लग रहा है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि एक तो हाईवे से ट्रैफिक स्लिप रोड पर जाता है इससे ट्रैफिक की रफ्तार बिल्कुल धीमी हो जाती है। दूसरा, मेन कैरिज वे 21 मीटर का है। अब स्लिप रोड सिर्फ 14 मीटर का रह गया है। साथ ही सर्विस लेन नहीं है। इस कारण जाम लग रहा है।

हाइवे का सिर्फ 500 मीटर के स्ट्रैच पर हो रहा है काम-
हाईवे पर रंगपुरी से लेकर रजोकरी तक सिर्फ 500 मीटर के स्ट्रैच पर काम हो रहा है। यहां पर दो अंडरपास व एक एलिवेटेड रोड बनना है। यहां से ट्रैफिक को निकालने के लिए ट्रैफिक इंस्पेक्टर जितेंद्र कुमार की देखरेख में भारी संख्या में ट्रैफिक कर्मी तैनात किए गए हैं। ट्रैफिक पुलिस के विशेष पुलिस आयुक्त सुरेंद्र सिंह यादव व रेंज उपायुक्त आलाप पटेल ने मौके पर जाकर ट्रायल का जायजा लिया।